सारी दुनिया से कहदो ……..

सारी दुनिया से कहदो के ,

 हमे दुनियादारी  की समझ नहीं ,

सारी खुशियों से कहदो के हमें, खुशियों की कदर नहीं

सारी दुनियां ……….

सारी आरज़ू में ढलकर हम फिर भी नया पयाम लिखते हैं

आंसुओं में ढ़लते हुए मुस्कानों का नया आयाम लिखता हैं ,

सारी दुनिया से कहदो ……..,



Spread the love

Published by

One thought on “सारी दुनिया से कहदो ……..”

  1. Very efficiently written post. It will be valuable to anyone who usess it, as well as myself. Keep doing what you are doing i will definitely read more posts. fggddgekegeg

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *